Home » Hindi » Technology Hindi » गूगल क्रोम के नए अपडेट में मिलेंगी Per-Site परमिशन, बेहतर फिशिंग सुरक्षा और भी बहुत कुछ

गूगल क्रोम के नए अपडेट में मिलेंगी Per-Site परमिशन, बेहतर फिशिंग सुरक्षा और भी बहुत कुछ

नई दिल्ली. नया गूगल क्रोम (Google Chrome) अपडेट अभी एंड्रॉयड और अन्य प्लेटफॉर्म पर चल रहा है, जो कि यूजर्स की प्राइवेसी के मामले में और अधिक कारगर है. नया अपडेट यूजर्स के लिए पर-साइट (Per-Site) के आधार पर वेबसाइट परमिशन को टॉगल करने की क्षमता रखता है. गूगल के अनुसार भविष्य में इसका और विस्तार किया जाएगा. इसके अलावा नया गूगल क्रोम अपडेट यूजर्स को अधिक क्रोम एक्शन एक्सेस की अनुमति देता है और ब्राउजर के सेफ्टी चेक और साइन-इन खाते पर सुरक्षा जांच करने की प्रक्रिया को स्ट्रीमलाइन करता है. गूगल के अनुसार ये नया अपडेट वेबसाइट आइसोलेशन तकनीकों में सुधार और फिशिंग (Phishing) का पता लगाने में भी पहले से बेहतर हुआ है.

नए गूगल क्रोम के नए अपडेट में एंड्रायड और अन्य प्लेटफार्म यूजर्स को प्रत्येक साइट को चलाने से पहले परमिशन का एक्सेस दिया जायेगा. यह लॉक बटन पर टैप करके किया जा सकता है, जो एड्रेस बार के बाईं ओर है. इस पर टैप करने से परमिशन सेक्शन सामने आ जायेंगे, जो यूजर्स को साइट रिक्वेस्ट के अनुसार कैमरा, लोकेशन और माइक्रोफोन जैसी परमिशन को ऑन या ऑफ करने की अनुमति देगा. गूगल क्रोम के प्रोडक्शन मैनेजर ऑड्रे एन का कहना है कि भविष्य के अपडेट में, यूज़र्स को अपने क्रोम ब्राउज़िंग हिस्ट्री से प्रत्येक वेबसाइट को आसानी से हटाने की अनुमति देकर इस सुविधा का और विस्तार किया जाएगा.

क्रोम एक्शन्स का भी विस्तार किया जा रहा है

नए गूगल क्रोम अपडेट के साथ क्रोम एक्शन्स का भी विस्तार किया जा रहा है. यह फीचर अनिवार्य रूप से यूज़र्स को क्रोम पर विशिष्ट सेटिंग्स तक पहुंचने के लिए आसानी से अल्लॉव करती है, जैसे ‘पासवर्ड एडिट करें. अब गूगल क्रोम, यूज़र्स को एक क्विक सेफ्टी चेक करने की अनुमति देकर इस सुविधा का और विस्तार करेगा, जिसे क्रोम एड्रेस बार पर ‘रन सेफ्टी चेक’ लिखकर किया जा सकता है . कमांड क्रोम अपडेट की जांच करेगा, आपकी सुरक्षित ब्राउजिंग सेटिंग्स का निरीक्षण करेगा और यह भी जांचेगा कि क्या आपका कोई सेव्ड पासवर्ड किसी भी ब्रीचड पासवर्ड रिपोजिटरी पर चालू हो गया है और इसके अनुसार ही आपको चेतावनी देगा.

ये भी पढ़ें- Zero-Click Hacks: आप करोगे तो कुछ नहीं लेकिन हैक हो जाओगे.. पढ़िए कैसे काम करता है जीरो क्लिक हैक्स? 

रिपोर्ट्स के अनुसार गूगल क्रोम के इस नए अपडेट के साथ प्राइवेसी सैंडबॉक्स सेटिंग्स भी प्राप्त हुई है. यह यूजर्स को प्राइवेसी सेटिंग्स के अंदर अपने ग्रुप या ग्रुप को रीसेट करने की अनुमति देगा. नया अपडेट पहले से ही एंड्रॉयड पर चल रहा है और गूगल के अनुसार इन नए फीचर्स को जल्द ही अन्य सभी प्लेटफॉर्म पर रोल आउट किया जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.


Source link

x

Check Also

शिल्पा शेट्टी ने फैंस से “हंगामा 2” देखने की गुजारिश, बोलीं- राज की गिरफ्तारी के बाद….

शिल्‍पा शेट्टी 14 साल बाद हंगामा 2 से कर रही फिल्‍मों में वापसी शिल्‍पा शेट्टी ...